About us

nihsarg.com  NCS (नेचर केयर सोसाइटी, रजि.) द्वारा प्रबंधित वेबसाइट है .

प्रकृति हमारी माँ है जो हमें जीवन प्रदान करती है . वर्तमान में निज स्वार्थ के वशीभूत हो ज्यों-ज्यों प्रकृति का दोहन हो रहा है , समस्याएं बढ़ रही हैं रोग बढ़ रहे हैं . आधुनिक चिकित्सा विज्ञान में शोध हो रहे हैं, तथाकथित उच्च गुणवत्ता युक्त औषधियों का निर्माण हो रहा है, उच्च चिकित्सा शिक्षा प्राप्त चिकित्सकों की संख्या में भी निरंतर वृद्धि हो रही है, परन्तु इतना सब होने के बाबजूद भी भयानक रोगों की संख्या में निरंतर वृद्धि हो रही है - क्यों ? क्योकि हम प्रकृति से निरंतर दूर होते जा रहे हैं, हमने अपनी जीवन शैली ही बदल ली है . यही रोगों का मुख्य कारण है . प्राकृतिक चिकित्सा में पञ्च-तत्वों -- पृथ्वी, जल, अग्नि, वायु और आकाश के माध्यम से विकसित उपचारों को रोग निवारण हेतु शरीर पर उपयोग किया जाता है . मानव शरीर भी पञ्च तत्वों से बना है, अप्राकृतिक जीवन शैली से शरीर में विष की मात्रा बढ़ने से पञ्च तत्वों का असंतुलन होता है और शरीर रोग से ग्रस्त हो जाता है . इस स्थिति में प्राकृतिक चिकित्सा के माध्यम से पञ्च तत्वों को संतुलित करना ही रोग मुक्ति का सर्वोत्तम साधन है .
प्राकृतिक चिकित्सा एक सरल पद्धति है, इसके प्रयोग में भी अन्य चिकित्सा पद्धतियों की तुलना में में बहुत कम खर्च आता है . परन्तु व्यावसायिकता की अंधी दौड़ में प्राकृतिक चिकित्सा को जनसामान्य से दूर कर दिया गया . आज योग, प्राकृतिक चिकित्सा जैसी सर्व सुलभ पद्धतियों को इतना जटिल बना दिया गया है कि यह आम आदमी की पहुँच से बाहर होकर पञ्च सितारा होटलों या रिजार्ट्स में कैद होकर रह गयी है . नेचर केयर सोसाइटी का यह प्रयास है कि प्राकृतिक चिकित्सा को इतना सरल व सुलभ बना दिया जाये कि प्रत्येक व्यक्ति स्वयं अपना चिकित्सक बन सके एवं जीर्ण-जटिलतम रोगों से मुक्ति पा सके .
जैसा कि पहले भी कहा गया है कि - प्राकृतिक चिकित्सा एक चिकित्सा पद्धति ही नहीं बल्कि जीवन पद्धति भी है , जिसे रोगी ही नहीं स्वस्थ्य व्यक्ति भी अपनाकर अपने शरीर को निरोग रख सकता है, तो आइये ...........प्रकृति की ओर चलें ! प्रकृति के साथ जुड़ें .

नेचर केयर सोसाइटी के प्रमुख उद्देश्य  :

  1. प्राकृतिक चिकित्सा, योग, आयुर्वेद, होम्योपैथी एवं यूनानी चिकित्सा के विकास के लिए चिकित्सा शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थानों की स्थापना करना एवं योग व् प्राकृतिक चिकित्सा को जन सामान्य की जीवन शैली में ढालकर व्यक्ति को स्वयं एवं समाज के स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करना सोसाइटी का प्रमुख उद्देश्य है .
  2. नेचर केयर सोसाइटी प्राकृतिक चिकित्सा, योग, एक्यूप्रेशर, चुम्बक, चिकित्सा पद्धतियों (जीवन पद्धतियों ) के विभिन्न पाठ्यक्रमों को संचालित करती है . इनका ज्ञान प्राप्त करके व्यक्ति स्वयं स्वस्थ्य रहने की कला सीखकर स्वस्थ्य समाज के निर्माण में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है .
  3. प्राकृतिक चिकित्सा एवं योग के माध्यम से गरीबों,निराश्रितों,असहायों को निःशुल्क चिकित्सा प्रदान करना .
  4. प्रकृति के संरक्षण हेतु आवश्यक क्रियाकलापों का सञ्चालन करना .
  5. प्राकृतिक संपदाओं जैसे- औषधियों,जड़ी -बूटियों,जल,मृदा,वृक्ष आदि के संरक्षण हेतु लोगों को जागरूक करना एवं अन्य आवश्यक क्रियाकलापों का संपादन करना .
  6. ग्राम पंचायत स्तर पर निःशुल्क योग,प्राकृतिक चिकत्सा परामर्श केन्द्रों की स्थापना करना .
  7. समय-समय पर निःशुल्क नेत्र रक्षा कैम्प,पोलियो निवारण कैम्प आयोजित करना .
  8. समाज के निराश्रितों,मूक-बधिरों,विकलांगों,नेत्रहीनों तथा विधवाओं एवं वृद्धों के लिए कल्याणकारी कार्यक्रम चलाना .
  9. जूनियर स्तर पर विद्यालयों के पाठयक्रम में योग व प्राकृतिक चिकित्सा विषय को सम्मिलित कराने का प्रयास करना .
  10. ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में शिक्षा संस्थानों एवं निःशुल्क औषधालयों का निर्माण व उनके सञ्चालन की व्यवस्था करना .
  11. कन्या भ्रूण हत्या के विरुद्ध आवश्यक अभियान चलाना .
  12. गौ माता संरक्षण के उपाय करना .